Category Archives: World

विश्वनाथ दम्पति कैलीफोर्निया में अपने नाती के साथ

This gallery contains 1 photo.


गोपालकृष्ण विश्वनाथ मेरे बिट्स, पिलानी के सीनियर हैं और मेरे ब्लॉग के अतिथि ब्लॉगर। पिछली बार मैने पोस्ट लिखी थी अक्तूबर 2012 में कि वे नाना बने हैं। अभी कुछ दिन पहले उनका ई-मेल आया कि वे इस समय कैलीफोर्निया … पढना जारी रखे

Gallery | Tagged , , , | 7 टिप्पणियाँ

सन्तोष कुमार सिंह

This gallery contains 2 photos.


आज श्री सन्तोष कुमार सिंह मिलने आये। वे टोकियो, जापान से कल शाम नई दिल्ली पंहुचे और वहां से अपने घर वाराणसी जा रहे थे। रास्ते में यहां उतर कर मुझसे मिलने आये। सन्तोष तेरह साल से जापान में हैं। … पढना जारी रखे

Gallery | 19 टिप्पणियाँ

मिराण्डा चेतावनी


मैं अर्थर हेली का उपन्यास डिटेक्टिव  पढ़ रहा था। नेट पर नहीं, पुस्तक के रूप में। यह पुस्तक लगभग दस बारह साल पहले खरीदी थी। लुगदी संस्करण, फुटपाथ से। नकली छपाई होने के चलते इसमें कुछ पन्ने धुन्धले हैं – कुछ … पढना जारी रखे

Posted in पुस्तक, राजनीति, विविध, विश्व, Books, Politics, Varied, World | 40 टिप्पणियाँ

निरक्षरता का मूल क्या है?

This gallery contains 2 photos.


रामपुर (छद्म नाम) के सैंतालीस प्रतिशत लोग काम के हिसाब से अनपढ़ हैं। प्रौढ़ शिक्षा एवम बेसिक कर्मठता योजना अधिकारी की एक रिपोर्ट में रामपुर के बारे में चौंकाने वाली रिपोर्ट बनाई है। इसके अनुसार लगभग आधे नागरिक अखबार नहीं … पढना जारी रखे

Gallery | 32 टिप्पणियाँ

मोटल्ले लोगों की दुनियाँ


आपने द वर्ल्ड इज फैट नहीं पढ़ी? 2010 के दशक की क्लासिक किताब। थॉमस एल फ्रीडमेन की द वर्ल्ड इज फ्लैट की बिक्री के सारे रिकार्ड तोड़ देने वाली किताब है। नहीं पढ़ी, तो आपको दोष नहीं दिया जा सकता। … पढना जारी रखे

Posted in अर्थ, औषधि, विविध, विश्व, Economy, Medicine, Varied, World | 62 टिप्पणियाँ

पर्यावरण, विकास और थर्मल पावर हाउस


मुझे पर्यावरण के प्रति चिंता है। मुझे विकास के प्रति भी चिंता है। यह तय है कि तीव्र गति से विकास के लिये हमें ऊर्जा उत्पादन की दर बढ़ानी होगी। इतनी बढ़ी दर के लिये नॉन कंवेंशनल स्रोत पर्याप्त नहीं … पढना जारी रखे

Posted in अर्थ, आस-पास, तकनीकी, पर्यावरण, विश्व, Economy, Environment, Surroundings, Techniques, World | 31 टिप्पणियाँ

भाग ७ – कैलीफोर्निया में श्री विश्वनाथ


यह श्री गोपालकृष्ण विश्वनाथ की कैलीफोर्निया प्रवास पर सातवीं अतिथि पोस्ट है। इस बार भी तसवीरों के माध्यम से आप को अपनी बात बताना चाहता हूँ। यहाँ तसवीरें छोटी आकार में दिखेंगी। यहां तसवीरों को resize करके यहाँ पेश रहे … पढना जारी रखे

Posted in जी विश्वनाथ, यात्रा, विश्व, G Viahwanath, Travel, World | 29 टिप्पणियाँ

पर्यटन क्या है?


मैं पर्यटन पर नैनीताल नहीं आया। अगर आया होता तो यहां की भीड़ और शानेपंजाब/शेरेपंजाब होटल की रोशनी, झील में तैरती बतख नुमा नावें, कचरा और कुछ न कुछ खरीदने/खाने की संस्कृति को देख पर्यटन का मायने खो बैठता। पैसे … पढना जारी रखे

Posted in पर्यावरण, विविध, विश्व, Environment, Varied, World | 31 टिप्पणियाँ